मुंबई: सुशांत मौत की जांच का एक एंगल ड्रग्स मामले की ओर घूम गया है. इस मामले में आज एनसीबी को रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक चक्रवर्ती और सुशांत के पूर्व हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा को चार दिन की रिमांड मिली है. इस मामले में आज एनसीबी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि हम एविडेंस पर डिस्कस कर रहे हैं जैसे-जैसे जांच आगे बढ़ेगी और भी आगे कार्रवाई हो सकती है.

एनसीबी के अधिकारी मुथा अशोक जैन ने कहा कि रिया चक्रवर्ती को पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा. उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो सभी को आमने सामने बिठाकर भी पूछताछ करेंगे. जानकारी के मुताबिक रिया को आज शाम तक ही एनसीबी समन भेज सकती है.

रिया और सैमुअल सितंबर तक एनसीबी की रिमांड पर
एनसीबी ने शौविक चक्रवर्ती, सैमुअल मिरांडा, जैद विलात्रा और कैजान को एनडीपीएस कोर्ट में पेश किया गया. एनसीबी ने कोर्ट से शौविक और सैमुअल की 7 दिन की रिमांड की मांग की थी. लेकिन कोर्ट इन दोनों की चार दिन की रिमांड पर भेजा है. यानि शौविक चक्रवर्ती और सैमुअल मिरांडा को 9 सितंबर के तक एनसीबी की रिमांड पर रहेंगे. इसके अलावा कैजान को 14 दिन कि न्यायिक हिरासत में लेने का आदेश दिया है.

शौविक की पेशी के दौरान आज कोर्ट में क्या हुआ?
बता दें कि शौविक चक्रवर्ती की तरफ से रिया के वकील सतीश मानशिंदे बचाव कर रहे थे और वह उनकी एनसीबी की कस्टडी का विरोध कर रहे थे. उन्होंने कोर्ट में कहा कि शौविक का कोई डायरेक्ट कनेक्शन नहीं मिला है. ऐसे में एनसीबी उन्हें रिमांड की मांग नहीं कर सकती है. कोर्ट में सुनवाई के दौरान कई मुद्दों पर बहस हुई.

कोर्ट में पेश करने से पहले शौविक, सैमुअल, जैद और कैजान का मेडिकल टेस्ट हुआ. इसके साथ ही उनका कोरोना टेस्ट भी हुआ, जिसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई. वहीं, मेडिकल टेस्ट की सभी रिपोर्ट भी सही आई है. रिपोर्ट आने के बाद एनसीबी की टीम चारों लोगों को ले एनडीपीएस कोर्ट के सामने पेश किया.

अब तक 7 लोग हुए है गिरफ्तार
मामले में अब तक कुल सात लोग गिरफ्तार हुए हैं. इनमें अब्बास रमजान अली लखानी, कर्ण अरोरा, जैद वीलांत्रा, अब्दुल बासित परिहार, कैजान इब्राहिम, सैमुअल मिरांडा और शौविक चक्रवर्ती को NCB ने गिरफ्तार किया है. कैज़न, सैमुअल और शौविक की कोर्ट पेशी आज शनिवार को होगी.

SSR Case: शौविक-सैमुअल की गिरफ्तारी के बाद वकील विकास सिंह का बयान- जांच के साथ निकलेंगे कई और एंगल

एक बार फिर सुशांत के फ्लैट पर गई CBI और फॉरेंसिक की टीम, मीतू सिंह और सिद्धार्थ पिठानी से हुआ क्रॉस वेरिफिकेशन



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to