Bihar Board Practical class will be Started: सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के बाद अब बिहार बोर्ड ने भी 9वीं से 12वीं तक के छात्रों की प्रैक्टिकल क्लास ऑनलाइन चलाने का फैसला लिया है. इसके लिए सभी स्कूल ओ-लैब से जुडेंगे. इस ओ-लैब को केंद्र सरकार के इलेक्ट्रॉनिक एंड टेलीकम्यूनिकेशन मंत्रालय ने तैयार किया है. सभी विद्यालयों को ओ- लैब से जोड़ने के लिए मंत्रालय ने सभी बोर्डों को निर्देश भेज दिया गया है.

NCERT के सिलेबस पर तैयार है लैब

यह ओ-लैब एनसीईआरटी के सिलेबस के अनुसार तैयार किया गया है. इस लैब से जुड़ने के लिए सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड ने तैयारी शुरू कर दी है. पटना के डीपीओ माध्यमिक ने भी सभी स्कूलों को ओ-लैब से जुड़ने के लिए संबंधित निर्देश भेज दिए हैं. ओ-लैब के माध्यम से स्टूडेंट्स अपने घर बैठकर प्रैक्टिकल क्लास अटेंड कर सकेंगें. स्टूडेंट्स को ओ-लैब की सुविधा 2021 के बोर्ड परीक्षा को ध्यान में रखकर दी जा रही है.

इस लिए की गई लैब की पहल

कोरोना वायरस कोविड-19 से संक्रमितों की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी के चलते प्रदेश के सभी स्कूल और कॉलेज बंद चल रहें हैं. ऐसे में सभी स्कूल और कॉलेजों द्वारा थ्योरी की क्लासेज तो ऑनलाइन चलाई जा रहीं हैं. परन्तु प्रैक्टिकल की क्लासेस बंद हैं. इस लिए ओ-लैब कि पहल की गई. ताकि प्रैक्टिकल की क्लासेस चल सकें. कक्षा 9वीं से 12वीं तक की क्लासेस अलग – अलग समय पर चलाई जायेंगी.  ओ-लैब से जुड़ने के लिए किसी भी स्कूल को किसी तरह का शुल्क नहीं देना है. उन्हें केवल www.olabs.edu.in पर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा.

लैब में प्रैक्टिकल एनिमेशन से दिखाया जायेगा

ओ लैब में सभी प्रैक्टिकल एनिमेशन के जरिये तैयार किये गए . इसी एनिमेशन के माध्यम एक्सपेरिमेंट दिखया जायेगा. यह एक्सपेरिमेंट अंग्रेजी और हिन्दी दोनों में तैयार किया गया है.  स्टूडेंट्स एनिमेशन के माध्यम से एक्सपेरिमेंट को आसानी से समझ पायेंगे और फिर से खुद प्रैक्टिकल कर पायेंगे.



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to