बिहार: बिहार के चुनाव अपने तय वक्त पर ही होंगे एक बार फिर केंद्रीय चुनाव आयोग ने इस बात का इशारा किया है. केंद्रीय चुनाव आयोग ने आज आगामी बिहार चुनावों और देश के अलग-अलग राज्यों में होने वाले उपचुनाव को लेकर एक बैठक की है.

बैठक के बाद चुनाव आयोग ने यह साफ कर दिया है कि चुनाव आयोग की कोशिश यह है कि बिहार का चुनाव 29 नवंबर को पूरे होने वाले विधानसभा के कार्यकाल से पहले संपन्न कराया जाए. वहीं बाकी राज्यों के उपचुनाव भी बिहार चुनावों के साथ ही करवाए जाएंगे. केंद्रीय चुनाव आयोग के सामने अलग-अलग राज्यों के चुनाव अधिकारियों और संबंधित अधिकारियों ने सुझाव दे कर बताया कि फिलहाल देश के कई राज्यों में इस वक्त बारिश, बाढ़ और प्राकृतिक आपदा के हालात हैं लिहाजा उपचुनाव इस वक्त ना करवाए जाएं.

केंद्रीय चुनाव आयोग ने इस रिपोर्ट के आधार पर यह तय किया है कि फिलहाल देश के 64 विधानसभा पर होने वाले उपचुनाव और 1 लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव को बिहार चुनावों के साथ ही करवाया जाएगा. चुनाव आयोग ने इस बीच यह भी साफ कर दिया है कि चुनाव आयोग सही वक्त पर बिहार चुनावों और 65 सीटों पर होने वाले उपचुनाव को लेकर तारीख का ऐलान करेगा.

चुनाव आयोग ने यह फैसला इस वजह से लिया है जिससे कि जब एक साथ चुनाव होंगे तो एक जगह से दूसरी जगह पर केंद्रीय सुरक्षाबलों और चुनाव संपन्न कराने वाले अधिकारियों को भेजना आसान होगा. केंद्रीय चुनाव आयोग की आज की बैठक से ये जरूर साफ हो गया है कि चुनाव आयोग ने बिहार चुनावों को लेकर अपनी तैयारियां पूरी कर ली है. आज की बैठक के बाद फिलहाल इशारा यही मिल रहा है कि सितंबर के तीसरे हफ्ते के बाद कभी भी चुनाव आयोग बिहार चुनावों की तारीखों का ऐलान करेगा.

अब तो चुनाव आयोग ने ये भी साफ कर दिया है कि 65 सीटों पर उपचुनाव भी बिहार चुनावों के साथ ही होंगे लिहाजा उम्मीद यही की जा रही है कि केंद्रीय चुनाव आयोग बिहार चुनावों के साथ ही देश की 64 विधानसभा सीटों और 1 लोकसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव की तारीखों का ऐलान भी बिहार चुनाव के साथ ही करेगा.

यह भी पढ़ें.

बिहार: महागठबंधन छोड़ इस पार्टी के साथ जा सकते हैं शरद यादव, अटकलें तेज

दिलीप कुमार से छिपाई गई दोनों भाइयों के मौत की खबर, सायरा बानो ने बताई ये बड़ी वजह



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to