नई दिल्ली: अनलॉक 4 में मेट्रो सेवा शुरू करने का फैसला किया गया. इसके बाद से देश भर में 7 सितंबर से मेट्रो सेवा शुरू हो रही है. लॉकडाउन के दौरान बंद रही मेट्रो सेवा अब जब दोबारा खुल रही है तो सब कुछ बदल चुका है. अब मेट्रो में सफर करने के लिए नए नियम कायदे होंगे और इसका पालन करना सबके लिए अनिवार्य होगा. क्या है यह नियम कायदे और कैसे करना होगा आपको मेट्रो मैप सफर आइए आपको बताते हैं.

अब मेट्रो में जब आप सफर करने की शुरुआत करेंगे उस वक्त से ही यह नियम आपको पालन करना होगा. यानी मेट्रो में अंदर जाने से पहले इन चीजों का ध्यान आपको रखना होगा. बिना मास्क के आप मेट्रो स्टेशन के अंदर भी नहीं जा सकेंगे. वही मेट्रो में अंदर आने और जाने के लिए अलग-अलग रास्ते हैं और उन्हीं पर आपको उचित दूरी बना कर चलना होगा. इसके अलावा थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान अगर आप सफर के लिए स्वस्थ पाए नहीं जाते तो आपको आगे जाने नहीं दिया जाएगा.

मास्क और फेस शिल्ड पहने हुए सुरक्षाकर्मी आपको दूर से ही चेक करेंगे
इसके बाद जब आप आगे बढ़ेंगे और आपके पास अगर सामान होगा तो चेक कराने से पहले उसे सैनिटाइज कराना होगा. इसके बाद आगे बढ़ने पर जो सुरक्षा जांच होती है उसमें भी आप बदलाव पाएंगे. मास्क और फेस शिल्ड पहने हुए सुरक्षाकर्मी आपको दूर से ही चेक करेंगे. बॉडी फ्रिस्किंग के दौरान भी उचित दूरी बनाए रहे इसका भी ध्यान रखा गया है.

यात्रा करने के लिए स्मार्ट कार्ड होना जरूरी
थर्मल स्क्रीनिंग सैनिटाइजेशन और सिक्योरिटी चेक के बाद अब आप मेट्रो स्टेशन के अंदर पहुंच चुके हैं लेकिन यात्रा करने के लिए आपके पास स्मार्ट कार्ड होना जरूरी है. क्योंकि अब मेट्रो में टोकन सुविधा कुछ दिनों के लिए बंद की गई है और स्मार्ट कार्ड के जरिए ही आप मेट्रो में सफर कर पाएंगे. इस दौरान टोकन काउंटर्स पर आप स्मार्ट कार्ड रिचार्ज करा सकते हैं या वहां लगी स्मार्ट वेंडिंग मशीन के जरिए आप अपने स्मार्ट कार्ड को रिचार्ज कर सकते हैं. लोग यहां पर इन मशीनों को छू लेंगे इसीलिए सैनिटाइजेशन खास खास ध्यान रखा गया है.

जगह जगह लगाए गए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने वाले स्टिकर
जब आप मेट्रो स्टेशन पहुंचेंगे तो आपको जगह जगह सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाने वाली स्टिकर नजर आएंगे. इसके अलावा मेट्रो स्टेशन पर गार्ड तैनात रहेंगे जो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाएंगे और उचित दूरी का ध्यान रखते हुए यात्रियों को चढ़ने और उतरने में मदद करेंगे.

सीटीं में भी देखने को मिलेगा बदलाव
दिल्ली मेट्रो के अंदर सफर करने के दौरान भी आप बहुत सारी चीजों में बदलाव पाएंगे. इस दौरान आप सीट पर ऐसे स्टिकर लगे देखेंगे जो बताएंगे कि उस सीट पर नहीं बैठना है ताकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हो सके. वहीं खड़े रहकर यात्रा करने वालों की संख्या भी सीमित की जाएगी.

कई जगहों पर होगा सैनिटाइजेशन
मेट्रो में अंदर जाने से लेकर सफर करने तक और बाहर निकलने तक सुरक्षा का का खास ध्यान रखा गया है. इस दौरान कई दफा कई जगहों पर सैनिटाइजेशन की प्रक्रिया निरंतर चलती रहेगी. अब आपको बताते हैं कि कब से मेट्रो सेवा और कौन सी मेट्रो लाइन शुरू हो रही है.

दिल्ली मेट्रो को चरणबद्ध तरीके से शुरू किया जाएगा. पांच चरणों में मेट्रो की अलग-अलग लाइन पर मेट्रो ऑपरेशन शुरू होगा और इस दौरान कम समय से शुरू किया जाएगा.

फेज 1
7 सितंबर को लाइन 2 (yellow line) समयपुर बदली से हुडा सिटी सेंटर मेट्रो लाइन और गुरुग्राम रैपिड मेट्रो शुरू होगी. 10सितंबर तक इस मेट्रो लाइन मेट्रो पर सुबह 7 से 11 बजे तक और दोपहर 4 से 8 बजे तक चलेगी.

फेज 2
9 सितंबर से लाइन 3 और 4 (ब्लू लाइन) द्वारका से नोएडा इलेक्ट्रॉनिक सिटी और द्वारका से वैशाली और लाइन 7 (पिंक लाइन) मजलिस पार्क से शिव विहार मेट्रो लाइन पर मेट्रो सर्विस शुरू होगी. 10सितंबर तक इस मेट्रो लाइन मेट्रो पर सुबह 7 से 11 बजे तक और दोपहर 4 से 8 बजे तक चलेगी.

फेज 3
10 सितंबर से लाइन 1 (रेड लाइन) रिठाला से शहीद स्टाल नई बस अडडा, लाइन 5 (ग्रीन लाइन) कीर्ति नगर / इंद्रलोक से ब्रिगेडियर तक. होशियार सिंह (बहादुरगढ़) और लाइन 6 (वायलेट लाइन) कश्मीरी गेट से राजा नाहर सिंह (बल्लभगढ़) मेट्रो सेवा शुरू होगी. इस मेट्रो लाइन मेट्रो पर सुबह 7 से 11 बजे तक और दोपहर 4 से 8 बजे तक चलेगी.

फेज 4
11 सितंबर से जनकपुरी पश्चिम से बॉटनिकल गार्डन और लाइन -9 (ग्रे लाइन) द्वारका से नजफगढ़ तक लाइन -8 (मैजेंटा लाइन) को भी चालू किया जाएगा.

11 सितंबर से चरणबद्ध तरीके से शुरू हुई मेट्रो सेवा के समय को बढ़ाया जाएगा. अब मेट्रो सेवा सुबह 7 से 1 बजे और दोपहर 4 बजे से 10 बजे रात तक चलेगी.

 फेज5
12 सितंबर से नई दिल्ली से द्वारका सेक -21 तक एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन भी चालू होगी. 12 सितंबर से सभी मेट्रो लाइन पर मेट्रो में यात्री सुबह 6 से रात 11 बजे तक सफर कर सकेंगे.

की गई हैं  ये व्यवस्थाएं

दिल्ली मेट्रो में सफर के दौरान यात्रियों के और वहां काम कर रहे लोगों की सुरक्षा को लेकर खास ध्यान रखा गया है.

– मेट्रो में सफर के दौरान और बाद में सैनिटाइजेशन किया जाएगा.

– सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए, स्टेशनों और ट्रेनों के अंदर उपयुक्त मार्किंग की गई है.

– सभी यात्रियों और कर्मचारियों के लिए फेस मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

– मेट्रो रेल में बिना मास्क के आने वाले यात्रियों के लिए मेट्रो मस्क उपलब्ध कराएगी जिसके लिए यात्री को पैसे देने होंगे.

– वहीं स्टेशनों पर थर्मल स्क्रीनिंग के बाद केवल एसिंप्टोमेटिक व्यक्तियों को यात्रा की अनुमति दी जाएगी.

-यात्रियों के लिए स्टेशनों में एंट्री गेट पर सैनिटाइज़र की सुविधा उपलब्ध होगी.

– हयूमन इंटरफ़ेस वाले सभी जगहों जैसे सिक्योरिटी और टिकट वेंडिंग जैसे उपकरण, ट्रेन, लिफ्ट, एस्केलेटर, रेलिंग, एएफसी गेट, शौचालय आदि नियमित अंतराल पर सैनिटाइज किया जाएगा.

– इसके अलावा स्मार्ट कार्ड का उपयोग और कैशलेस और ऑनलाइन लेनदेन को प्रोत्साहित किया जाएगा.

– सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए सुचारू बोर्डिंग और डीबोर्डिंग करने के लिए स्टेशनों पर पर्याप्त समय दिया जाएगा.

– एंट्री और एग्जिट के लिए अलग रास्ते होंगे.

कोरोना वैक्सीन को लेकर डोनाल्ड ट्रंप का बड़ा एलान, राष्ट्रपति चुनाव से पहले मिल जाएंगे टीके!

PM मोदी की पर्सनल वेबसाइट का हैक अकाउंट हुआ ठीक, ट्विटर ने कहा- हम जांच कर रहे हैं



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to