पटना: बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर लोक जनशक्ति पार्टी की ओर से बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट संकल्प के तहत सभी प्रमुख अखबारों में एक विज्ञापन दिया गया है. विज्ञापन के जरिये एक बार फिर सीएम नीतीश कुमार को घेरने की कोशिश की गई है. इस विज्ञापन में लोक जनशक्ति पार्टी ने यह बताया है कि नया बिहार और युवा बिहार बनाने के लिए सभी बिहारी भाइयों-बहनों को युवा बिहारी चिराग पासवान के साथ चलना होगा. यही समय है जब बिहार के अस्मिता की लड़ाई सभी बिहारी को लड़नी होगी ताकि हम सब बिहार पर नाज कर सकें.

पार्टी ने अपना पुराना टैग लाइन दोहराया

विज्ञापन में कहा गया है, ” लोक जनशक्ति पार्टी सभी जाति धर्म में आस्था रखती है और सभी को हमेशा से साथ लेकर चली है. विज्ञापन में ‘धर्म ना जात, करे सबकी बात’ पार्टी के पुराने टैग लाइन को दोहराया है.” बता दें कि लोक जनशक्ति पार्टी जब से बनी है पार्टी की ओर से पहली बार अधिकारिक विज्ञापन दिया गया है. इस विज्ञापन को देने के पीछे पार्टी की सोच और अपने लाखों कार्यकर्ताओं के संकल्प, बिहार को फर्स्ट और बिहारी फर्स्ट बनाना है को दोहराया गया है.

पार्टी विज्ञापन में महान लोगों की फोटो

पार्टी के विज्ञापन में माता सीता, भगवान महावीर, भगवान बुद्ध, गुरु गोबिंद सिंह साहेब, चाणक्य, चंद्रगुप्त मौर्य, सम्राट अशोक, आर्यभट, शेरशाह सूरी, वीर कुंवर सिंह, महात्मा गांधी राजेंद्र प्रसाद, बाबा साहब, रामधारी सिंह दिनकर, श्री कृष्णा सिंह, जय प्रकाश नारायण कर्पुरी ठाकुर जैसे महान लोगों फोटो छापी गयी है. वहीं कहा गया है कि इनकी प्रेरणा से और इन सभी के आशीर्वाद के साथ युवा बिहारी का कारवां निकलेगा जो बिहार पर नाज करने संकल्पित है.

युवा बिहार बनाने में दें योगदान

पार्टी ने अपने विज्ञापन में बताया है कि बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो हम पर राज करने के लिए लड़ रहे है, लेकिन मात्र लोक जनशक्ति पार्टी है जो बिहार पर नाज करने की लड़ाई लड़ रही है. इस विज्ञापन से युवा बिहारी चिराग पासवान की अपेक्षा है कि सभी बिहारी, बिहार को फर्स्ट और बिहारी को फर्स्ट बनाने के लिए साथ आए और नया बिहार और युवा बिहार के बनाने में योगदान दें.

एलजेपी ने विज्ञापन में अपने सभी सांसद और विधायक के साथ सभी जिला प्रभारी, जिला अध्यक्ष, पार्टी में जो लोग चुनाव लड़ना चाहते हैं उन्हें इस विज्ञापन में जगह दी है.



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to