मुंबई: शिवसेना नेता संजय राउत पर धमकी देने का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री कंगना रनौत के बयान पर संजय राउत ने कहा कि हमको इतना ही काम है क्या. हम लोग फोकट की धमकी देने वाले लोग नहीं हैं. मुंबई में रहकर उसने शोहरत कमाई, पैसा कमाया, मुंबई पुलिस ने उसकी सुरक्षा की और अब वह मुंबई पुलिस पर ही इल्जाम लगा रही है. मुंबई पुलिस को अगर वह बदनाम कर रही है तो यह सरकार की भी बदनामी है.

राउत ने आगे कहा कि अगर उसे (कंगना) लगता है कि मुंबई पुलिस उसकी सुरक्षा नहीं कर सकती है तो मुंबई में उसकी सुरक्षा करने के लिए हिमाचल की पुलिस तो नहीं आएगी इससे अच्छा है वह हिमाचल में ही रहे.

राउत ने कहा, ‘करोना कॉल में मुंबई पुलिस के 50 से ज्यादा जवान ऑन ड्यूटी कोरोना के शिकार हुए और शहीद हो गए और आप उस पर इल्जाम लगा रही हैं. मुझे लगता है यह वह नहीं बोल रही उसके मुंह से कोई बुलवा रहा है.’

उन्होंने आगे कहा कि मुंबई को पाक अधिकृत कश्मीर बताया जा रहा है मुझे लगता है की यह मुंबई और मुंबई पुलिस को बदनाम करने की बहुत बड़ी साजिश है और यह राजनीतिक साजिश है. सबसे पहले मुंबई से फाइनेंस सेंटर हटा दिया गया. अब मैं सुन रहा हूं कि कुछ लोग मुंबई से फिल्म सिटी को भी हटाना चाह रहे हैं. यह जो माहौल बनाया जा रहा है, यह बहुत खतरनाक है और जो राजनीतिक दल ऐसे लोगों को सपोर्ट कर रहे हैं वह महाराष्ट्र के दुश्मन हैं.

राउत ने आगे कहा कि जो देश का आर्थिक केंद्र है उसकी तुलना अगर आप पीओके से कर रहे हैं, इसका मतलब आपका कुछ एजेंडा अलग है. जिसे कुछ लोगों से पकड़ कर चलाया जा रहा है. अगर कंगना रनौत को कोई नेता बनाना चाहता है, यह उसकी मजबूरी है. लेकिन अगर कोई इस तरह से महाराष्ट्र पर कीचड़ उछालेंगे तो मैं बोलूंगा हमारी पार्टी के लोग बोलेंगे. कंगना रनौत मुंबई आती हैं तो विरोध करना या नहीं करना यह आगे की बात है. अब तक हमने अपने गुस्से पर संयम रखा है.

यह भी पढ़ें- 

कंगना का खुला चैलेंज, 9 सितंबर को आ रही हूं मुंबई, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक लें



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to