Success Story Of IAS Topper Nidhi Bansal: मध्य प्रदेश के एक छोटे से जिले मुरैना की निधि बंसल के जज्बे को देखकर यकीन करना थोड़ा मुश्किल है कि कोई इतना दृढ़ प्रतिज्ञ कैसे हो सकता है. इतनी हिम्मत, इतनी मेहनत और कभी हार न मानने का ऐसा जज्बा जिसे सलाम करने का दिल चाहे. यूपीएससी जैसी परीक्षा को इतनी बार देने का संयम और हर बार फिर से कोशिश क्योंकि आईएएस पद नहीं मिल रहा था, आसान नहीं होता. हर कोई डिमोटिवेट हो जाता है, परेशान हो जाता है. निधि के सफर में भी ऐसे पल आए पर उन्होंने कभी हिम्मत नहीं हारी. आज जानते हैं निधि के सफर के बारे में विस्तार से.

इंजीनियर हैं निधि –

कैलारस कस्बे, मुरैना की निधि की शुरआती पढ़ाई लिखाई यहीं से हुई. उसके बाद उन्होंने एनआईटी त्रिचि से बीटेक किया. बीटेक के बाद निधि ने एक साल नौकरी की और इसी दौरान उन्हें लगा कि वे सिविल सर्विस के क्षेत्र में जाना चाहती हैं और वे जुट गईं तैयारी में. पहले अटेम्पट में निधि का नहीं हुआ. दूसरे में निधि का सेलेक्शन हुआ और रैंक आयी 219. इस रैंक के तहत उन्हें आईपीएस सेवा त्रिपुरा एलॉट हुई. निधि खुश थी पर संतुष्ट नहीं. उन्होंने फिर से प्रयास किया. इस बार भी निधि सेलेक्ट हुईं और रैंक आयी 226 और फिर से आईपीएस सेवा मिली लेकिन झारखंड में. इस बार निधि ने ज्वॉइनिंग कर ली लेकिन उनके मन में अभी भी आईएएस ही घूम रहा था. उन्होंने एक साल की छुट्टी ली और फिर से तैयारी में लग गईं. अंततः अपने पांचवें और अंतिम प्रयास में निधि को साल 2019 में 23वीं रैंक प्राप्त हुई और उनकी सालों की तपस्या का फल आखिरकार उन्हें मिला.

क्या कमी थी –

निधि एक साक्षात्कार में बात करते हुए कहती हैं कि जब वे अपनी गलतियां देख रही थी तो उन्हें समझ आया कि उन्होंने ऑप्शनल गलत चुना था. पहले तीन प्रयासों में उनका ऑप्शनल सोशियोलॉजी थी. वे कहती हैं मुझे मैथ्स पसंद है और मेरी गलती थी दूसरा विषय चुनना. चौथे प्रयास से निधि ने ऑप्शनल बदला और मैथ्स ले ली. मैथ्स का कोर्स इतना ज्यादा और इतना लंबा है कि इस अटेम्पट में वे मैथ्स में ही लगी रह गईं. इससे उनके ऑप्शनल में तो अंक बहुत अच्छे आए 300 के ऊपर पर बाकी विषय रह गए. इसके पहले के प्रयासों में निधि के ऑप्शनल में ही अंक कम रह जाते थे. आखिरकार उन्होंने पांचवे प्रयास में सभी विषयों पर बराबर ध्यान दिया और जमकर मेहनत की. वे जानती थी के ये आखिरी मौका है और उनकी मेहनत रंग लाई जब उनका चयन आईएएस पद के लिए हो गया. इस बार भी ऑप्शनल में उनके अंक सबसे अधिक 300 से ऊपर आए हैं.

रिवीज़न इज द की –

निधि तैयारी के टिप्स देते हुए कहती हैं कि रिवीजन इज द की. अगर आप रिवाइज़ नहीं करेंगे तो परीक्षा में इतना कम समय होता है कि सोचते ही रह जाएंगे. आपके उत्तर लगभग तैयार होने चाहिए. वे एनसीईआरटी की सभी किताबें पढ़ने पर जोर देती हैं, उनके अनुसार यहीं से बेस मजबूत होता है. करेंट अफेयर्स के लिए निधि न्यूज पेपर और मंथ्ली कंपाइलेशन वाली किताबें पढ़ती थी. इसके लिए वे अखबार से नोट्स भी बनाती थी. वे कहती हैं नोट्स बनाने से एक तो आपकी राइटिंग प्रैक्टिस होती है दूसरा वोकेबुलेरी भी इंप्रूव होती है. एथिक्स के पेपर में भी उन्हें अखबार के मोटिवेशनल कॉलम्स या ऐसे ही दूसरे कॉलम्स से मदद मिली. अगर बात करें ऐस्से की तो निधि को लगता है कि विषय के आसपास के जरूरी बिंदु कवर करते हुए ऐस्से लिखना लाभ देता है. वे आगे बताती हैं कि उन्होंने कभी शेड्यूल बनाकर तैयारी नहीं की. बस एक दिन का टारगेट सेट करती थी और उसे खत्म करके ही सोती थी.

साक्षात्कार पर चर्चा –

इस बारे में अपनी बात रखते हुए निधि कहती हैं कि इसे इंटरव्यू की जगह पर्सनेलिटी टेस्ट कहें तो बेहतर होगा. यहां फैक्चुअल नॉलेज का टेस्ट नहीं होता बल्कि आपकी पर्सनेलिटी का टेस्ट होता है. जैसे आप एक इंसान के तौर पर कैसे हो, आपकी सोच क्या है, आपका कांफिडेंस लेवल कैसा है आदि बिंदुओं को परखा जाता है. इसके लिए निधि किसी अच्छी जगह के कुछ मॉक टेस्ट देने की सलाह देती हैं. वे कहती हैं इन मॉक टेस्ट्स से आपकी एनालिटिकल थिंकिंग इम्प्रूव होती है. बिल्कुल यूपीएससी जैसे माहौल में साक्षात्कार दें.

अंत में निधि यही सलाह देती हैं कि यूपीएससी के साथ ही अगर कैंडिडेट अपने लिए ऑप्शन तैयार रखकर तैयारी करेगा तो ज्यादा अच्छा रहेगा. इससे उसके ऊपर सफलता का दबाव कम हो जाता है. साथ ही साथ दूसरी परीक्षाएं भी दें ताकि कहीं सेलेक्शन हो जाएगा तो आपको यह नहीं लगेगा कि साल दर साल निकलते जा रहे हैं और आपके कैरियर को कोई दिशा तक नहीं मिली है. निधि खुद पहले एसएससी और उसके बाद दो बार आईपीएस सेवा पा चुकी थी इसलिए उनके मन में समय लगने का प्रेशर नहीं था.


IAS Interview में पूछे जाने वाले कुछ अजीब सवाल और उनके जवाब, देखें यहां

ICAR AIEEA 2020 परीक्षा हुई स्थगित, icar.nta.nic.in पर देखें नया शेड्यूल



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to