नई दिल्ली: चीन ने उन खबरों का खंडन किया है जिसमें ये कहा जा रहा था कि ताइवान ने उसके सीसीपी एसयू-35 एयरक्राफ्ट को मार गिराया है. चीन के रक्षा मंत्रालय ने एक बयान जारी करते हुए ये बात कही है. मीडिया रिपोट्स में ये दावा किया गया था कि चीन के एक लड़ाकू विमान ने ताइवान की सीमा में घुसने की कोशिश की थी जिसे मार गिराया गया.

चीन के रक्षा मंत्रालय ने कहा, “वायु सेना कमान ने बताया कि लोगों को भ्रमित करने के प्रयास में इंटरनेट पर जानबूझकर गलत सूचनाओं का निर्माण और प्रसार करके इस तरह के दुर्भावनापूर्ण कृत्यों की कड़ी निंदा करते हैं.”

इसके साथ ही कहा गया, “ताइवान ने सीसीपी एसयू -35 विमान को मार गिराया?” वायु सेना कमान ने आज पूरी तरह से मना कर दिया कि यह गलत सूचना है और पूरी तरह से झूठ  है.”

चीनी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि एयर स्पेस की सुरक्षा के मद्देनजर वायुसेना का हेडक्वार्टर समुद्र और ताइवान जल संधि को नजदीक से मॉनिटर करता रहेगा और फेक न्यूज़ के प्रसार को रोकने के लिए समय से सही जानकारी उपलब्ध कराता रहेगा.

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के शीर्ष सलाहकार ने भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद इस्तीफा दिया 





Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to