अक्सर फिल्मी पर्दे पर असल जिंदगी की कहानियों को उतारा जाता है, जिन्हें फैंस भी काफी पसंद करते हैं. ऐसी ही एक फिल्म थी ‘काश’. जैकी श्रॉफ (Jackei Shroff) और डिंपल कपाड़िया (Dimple Kapadia) की अदाकारी से सजी इस फिल्म को महेश भट्ट (Mahesh Bhatt) ने डायरेक्ट किया था. खबरों की मानें तो इस फिल्म की कहानी में सुपरस्टार राजेश खन्ना (Rajesh Khanna) की असल जिंदगी की झलक दिखाई देती है. वैसे तो इस फिल्म में जैकी श्रॉफ के किरदार की खूब सराहना हुई थी लेकिन कम ही लोगों को पता है कि महेश भट्ट इस फिल्म में लीड रोल के लिए विनोद खन्ना (Vinod Khanna) को कास्ट करना चाहते थे जिसके लिए उन्होंने विनोद से बात भी की थी. लेकिन विनोद खन्ना ने ‘काश’ की कहानी सुनी तो उन्होंने राजेश खन्ना के लिए सम्मान की वजह से इस फिल्म से इंकार कर दिया.

फिल्म ‘काश’ में किशोर कुमार (Kishor Kumar) के गाए हुए गाने लोगों को काफी पसंद आए थे. इस फिल्म के रिलीज होने के एक महीने बाद ही किशोर कुमार ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया था. फिल्म ‘काश’ का संगीत राजेश रोशन ने दिया था और इस फिल्म में एक गाना मशहूर एक्टर महमूद ने भी गाया था. फिल्म की कहानी और संगीत दोनों ने दर्शकों के दिलों में अपनी जगह बनाई.

खबरों की मानें तो फिल्म ‘काश’ में जैकी श्रॉफ और डिंपल कपाड़िया के बीच कुछ बोल्ड सीन भी शूट किए गए थे मगर महेश भट्ट इस फिल्म को एक पारिवारिक फिल्म के रूप में पेश करना चाहते थे इसीलिए बाद में उन सीन्स को फिल्म में ना डालने का निर्णय लिया गया. खबरें तो ये भी हैं कि जब महेश भट्ट इस फिल्म को लिख रहे थे तब वो इसमें लीड रोल के लिए सोनी राजदान (Soni Razdan)और नसीरुद्दीन शाह (Naseeruddin Shah) को लेना चाहते थे. लेकिन महेश ने साल 1986 में सोनी राजदान से शादी कर ली और नसीरुद्दीन ने फिल्म के लिए मोटी रकम मांग ली जिसकी वजह से महेश भट्ट इन दोनों के साथ ये फिल्म नहीं बना सके.



Source link

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate to